सोशल और डिजिटल मीडिया की रीढ़ है प्रिंट मीडिया-योगेश नारायन दीक्षित

सोशल और डिजिटल मीडिया की रीढ़ है प्रिंट मीडिया-योगेश नारायन दीक्षित

-आईएमएस में हुआ कार्यशाला का आयोजन

नोएडा। इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (आईएमएस) नोएडा ने समाचार लेखन विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया। रविवार को कार्यक्रम के दौरान छात्रों को समाचार लेखन के विविध आयाम से रूबरू कराया गया। वही कार्यक्रम के दौरान आईएमएस के प्रेसिडेंट राजीव कुमार गुप्ता, डीन डॉ. मंजू गुप्ता, जनसंचार विभाग की कॉडिनेटर श्रद्धा पुरोहित के साथ शिक्षक एवं छात्रों ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। वहीं संस्थान द्वारा आयोजित कार्यशाला का सफल आयोजन डॉ. संदीप श्रीवास्तव के तत्वाधान में हुआ।
कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए प्रो. संदीप श्रीवास्तव ने बताया कि आज के कार्यशाला में बतौर अतिथि अमर उजाला के एसोसिएट एडिटर योगेश नारायण दीक्षित मौजूद रहे। वहीं कार्यक्रम के दौरान छात्रों को समाचार लेखन, समाचार संपादन, पत्र एवं पत्रिका के लिए लेखन, रिपोर्टिंग, पेज ले-आउट एवं डिजिटल माध्यम के लिए लेखन पर विस्तृत चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि कार्यशाला के दौरान प्रिंट मीडिया को लेकर भ्रांतिया, चुनौतियां एवं भविष्य के बारे में भी छात्रों को जागरूक किया गया। वहीं संस्थान की डीन डॉ. मंजू गुप्ता ने कहा कि महामारी के दौरान लोगों को जागरूक करने में प्रिंट मीडिया ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
वहीं छात्रों से रूबरू होते हुए योगेश नारायण दीक्षित ने बताया कि अच्छा लिखने के लिए अच्छा पढ़ना जरूरी है। आप पढ़ने की आदत डाले, आसपास की घटनाओं को देखें एवं अलग-अलग समाचार पत्रों में खबरों को कैसे लिखा जाता है उसकी भाषा-शैली को देखकर अपनी समझ को विकसित करे। उन्होंने कहा कि प्रिंट मीडियो को लेकर कोरोना के दौरान जो भ्रांतिया उपजी है वे सभी निराधार है। आप जो भी खबरे डिजिटल एवं सोशल मीडिया पर देखते है उससे तबतक सहमत नही होते जबतक कि आप अखबार में उस खबर की पुष्टि नही कर लेते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email