सी3आई लैब, आईआईटी कानपुर द्वारा आयोजित साइबर सिक्योरिटी अवेयरनेस वर्ल्डवाइड प्रतियोगिता हुई सम्पन्न

सी3आई लैब, आईआईटी कानपुर द्वारा आयोजित साइबर सिक्योरिटी अवेयरनेस वर्ल्डवाइड प्रतियोगिता हुई सम्पन्न

कानपुर। (साइबर सिक्योरिटी अवेयरनेस वर्ल्डवाइड) प्रतियोगिता का आयोजन आईआईटी कानपुर के कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के प्रोफेसर तथा सी3आई लैब के डायरेक्टर प्रोफेसर संदीप शुक्ला के पर्यवेक्षण में टीम में शामिल रोहित नेगी,  मृदुल चमोली, आनंद हंडा के समन्वयन में किया गया। यह प्रतियोगिता न्यूयॉर्क विवि सहित विश्व में अन्य केन्द्रो पर एक साथ एक ही समय पर कराई गयी। 06 नवम्बर से 08 नवम्बर 2020 के मध्य आयोजित CSAW’2020 में इंडिया रीजन से कुल 3 प्रतियोगिताओं का आयोजन इस बार ऑनलाइन माध्यम से किया गया,  जिसमे कैप्चर द फ्लैग,  एम्बेडेड सिक्योरिटी चैलेंज,  एप्लाइड रिसर्च कम्पटीशन प्रतियोगिता का सफल आयोजन किया गया।
साइबर सुरक्षा के मामलों में आईआईटी की युवा प्रतिभा ने एकबार फिर गौरवान्वित किया। हैकिंग प्रतिभा के आंकलन के लिए इस बार virtually  माध्यम से हुई हैकिंग मैराथन में आईआईटी इंदौर की टीम  “बाइटबैंडिट्स ” इंडिया रीजन में प्रथम स्थान में रही तथा इस टीम को विश्वभर में ८वा स्थान मिला। दूसरा स्थान आईआईटी रूडकी की टीम  “इन्फोसेक्आईआईटीआर” को मिला जबकि वर्ल्ड लेवल में 14वी रैंक हासिल करी। अमृता विश्व विद्यापीठम अमृतापुरी की टीम  “बायोस” तीसरे स्थान में रही तथा विश्वभर में 16वा स्थान मिला।
इस साल का एम्बेडेड सिक्योरिटी चैलेंज,  इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) की सुरक्षा पर केंद्रित था, जो नेटवर्क कनेक्टिविटी के साथ एम्बेडेड डिवाइस हैं। अनुमान के अनुसार  IoT  डिवाइस आज  20 बिलियन से अधिक  IoT  डिवाइसों के साथ आधुनिक स्मार्ट इन्फ्रास्ट्रक्चर का हिस्सा हैं।  ESC 2020 ओपन-सोर्स रिवर्स इंजीनियरिंग टूल्स का उपयोग करके  RISC-V  IoT  प्लेटफॉर्म पर चल रहे वाईफाई एक्सेस प्वाइंट के फर्मवेयर को हैक करने के लिए प्रतियोगियों को दिया गया। एम्बेडेड सिक्योरिटी प्रतियोगिता में प्रथम स्थान आईआईटी रूडकी की टीम  “SDS labs” ने हासिल किया, दूसरा स्थान आईआईटी खड़गपुर की टीम  “SEAL” ने तथा तीसरा स्थान आईआईटी धारवाड़ की टीम ” The Hacking Company”  ने हासिल किया ।
एप्लाइड रिसर्च प्रतियोगिता में छात्र  CSAW बेस्ट पेपर प्रतियोगिता आयोजित कर स्वीकृत शोधपत्र प्रस्तुत किये गए। CSAW प्रतियोगिता में सम्मानित संगठनो से न्यायाधीशों को अनुसंधान की मौलिकता,  प्रासंगिकता और सटीकता का मूल्यांकन करने के लिए  virtually आमंत्रित कर सर्वश्रेस्थ शोधपत्र शीर्ष तीन प्रस्तुतियो से सम्मानित किया गया। जिसमे आईआईटी मद्रास की गार्गी मित्रा ने पहला,  आईआईटी मद्रास के पतंजलि ने दूसरा तथा आईआईटी मद्रास की ही कीर्थी के. ने तीसरा स्थान हासिल किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email